दिल्ली के बॉस सीएम या एलजी, SC की संविधान पीठ आज सुनाएगी फैसला

सुप्रीम कोर्ट की पांच न्यायाधीशों की संविधान पीठ बुधवार को तय करेगी कि दिल्ली का बॉस कौन है। दिल्ली के बारे में फैसला लेने की प्राथमिकता किसके पास है। दिल्ली के उपराज्यपाल के पास या मुख्यमंत्री के पास। सुप्रीम कोर्ट केंद्र और दिल्ली सरकार के बीच चल रही अधिकारों की लड़ाई पर अपना फैसला सुनाएगा। दिल्ली की आम आदमी पार्टी सरकार ने उपराज्यपाल को दिल्ली का प्रशासनिक मुखिया घोषित करने के हाई कोर्ट के फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है। अपीलीय याचिका में दिल्ली की चुनी हुई सरकार और उपराज्यपाल के अधिकार स्पष्ट करने का आग्रह किया गया है।
सुरक्षित रख लिया था फैसला
मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा, न्यायमूर्ति एके सीकरी, न्यायमूर्ति एमएम खानविल्कर, न्यायमूर्ति डीवाई चंद्रचूड़ और न्यायमूर्ति अशोक भूषण की पीठ ने केंद्र और दिल्ली सरकार की ओर से पेश दिग्गज वकीलों की चार सप्ताह तक दलीलें सुनने के बाद गत छह दिसंबर को अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था। दिल्ली सरकार की ओर से वरिष्ठ वकील गोपाल सुब्रमण्यम, पी. चिदंबरम, राजीव धवन, इंदिरा जयसिंह और शेखर नाफड़े ने बहस की थी जबकि केन्द्र सरकार का पक्ष एडीशनल सालिसिटर जनरल मनिंदर सिंह ने रखा था।
उपराज्यपाल चुनी हुई सरकार को काम नहीं करने देते
दिल्ली सरकार की दलील थी कि संविधान के तहत दिल्ली में चुनी हुई सरकार है और चुनी हुई सरकार की मंत्रिमंडल को न सिर्फ कानून बनाने बल्कि कार्यकारी आदेश के जरिये उन्हें लागू करने का भी अधिकार है। दिल्ली सरकार का आरोप था कि उपराज्यपाल चुनी हुई सरकार को कोई काम नहीं करने देते और हर एक फाइल व सरकार के प्रत्येक निर्णय को रोक लेते हैं।
हालांकि दूसरी ओर केंद्र सरकार की दलील थी कि भले ही दिल्ली में चुनी हुई सरकार हो लेकिन दिल्ली पूर्ण राज्य नहीं है। दिल्ली विशेष अधिकारों के साथ केंद्र शासित प्रदेश है। दिल्ली के बारे में फैसले लेने और कार्यकारी आदेश जारी करने का अधिकार केंद्र सरकार को है। दिल्ली सरकार किसी तरह के विशेष कार्यकारी अधिकार का दावा नहीं कर सकती।
मामूली बातों पर मतभेद नहीं होना चाहिए
दिल्ली सरकार बनाम उपराज्यपाल मामले में सुप्रीम कोर्ट ने टिप्पणी भी की थी। सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि उपराज्यपाल और चुनी हुई सरकार के बीच आत्मीय संबंध होने चाहिए। खासतौर पर जब केंद्र और दिल्ली में अलग-अलग पार्टी की सरकार हो। उपराज्यपाल और सीएम के बीच प्रशासन को लेकर सौहार्द्र होना चाहिए।आपसी राय में मतभेद मामूली बातों पर नहीं होना चाहिए।
एलजी के अधिकार राज्य सरकार से ज्यादा
बता दें कि उपराज्यपाल को दिल्ली का प्रशासनिक प्रमुख बताने वाले, दिल्ली उच्च न्यायालय के फैसले को चुनौती देने वाली दिल्ली सरकार की विभिन्न याचिकाओं पर सुप्रीम कोर्ट सुनवाई कर चुकी है। सुप्रीम कोर्ट की पांच सदस्यीय संविधान पीठ स्पष्ट कर चुकी है कि केजरीवाल सरकार को स‌ंविधान के दायरे में रहना होगा, पहली नजर में एलजी के अधिकार राज्य सरकार से ज्यादा हैं।

Read More

Lok Sabha Election 2019: भाजपा ने जारी की 36 उम्मीदवारों की तीसरी लिस्ट, पुरी से संबित पात्रा

Lok Sabha Election 2019 के लिए भाजपा ने 36 उम्मीदवारों की तीसरी लिस्ट जारी कर दी है। इस लिस्ट में भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा का नाम प्रम ...

भाजपा चुनाव समिति का बड़ा फैसला, छत्‍तीसगढ़ के मौजूदा सभी सांसदों के काटे जाएंगे टिकट

भाजपा के मुख्‍य कार्यालय में मंगलवार शाम को केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक हो रही है। पीएम मोदी, भाजपा अध्‍यक्ष अमित शाह और अन्‍य नेता भाजपा दफ्तर पहुंच ...

प्रमोद सावंत संभालेंगे गोवा की कमान, आयुर्वेद के डॉक्टर से सीएम तक का सफर

गोवा विधानसभा के स्पीकर प्रमोद सावंत मनोहर पर्रीकर के स्थान पर राज्य के नए मुख्यमंत्री बनाए गए। उन्होंने देर रात 2 बजे मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। सावंत ...

Goa LIVE: सीएम मनोहर पर्रीकर का निधन, राष्ट्रीय शोक घोषित, शाम को होगा अंतिम संस्कार

गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रीकर का रविवार को निधन हो गया। पैंक्रियाटिक कैंसर से पिछले एक साल से जूझ रहे 63 वर्षीय पर्रीकर ने रविवार शाम को अंतिम सां ...

पाकिस्तान में Air Strike की खबरों के बीच म्यांमार सीमा पर भारतीय सेना की आतंकियों पर Surgical Strike

भारतीय सेना ने म्यांमार सीमा पर मौजूद आतंकियों के ठिकाने ध्वस्त (Surgical Strike) किए हैं। जिस समय देश और दुनिया का ध्यान पुलवामा आतंकी हमला (Pulwama ...

पाकिस्तान सीमा से सटे अमृतसर शहर में देर रात धमाकों की आवाज से दहशत में लोग

अमृतशहर में सुनाई दी धमाकों की आवाज से दहशत का माहौल है। देर रात करीब सवा एक बजे हुए जोरदार धमाकों से शहर के लोग सहमे हुए हैं। धमाके क्या थे और इनकी व ...

चांदनी चौक से चुनाव लड़ सकते हैं एक्टर अक्षय कुमार, राजनीतिक गलियारों में चर्चा तेज

चांदनी चौक टू चाइना का सफर तय करने वाले बॉलीवूड के मिस्टर खिलाड़ी अक्षय कुमार अब संसद तक का सफर तय कर सकते हैं। राजनीतिक गलियारे में इसकी चर्चा तेज है ...

Lok Sabha Election 2019: महागठबंधन के दावे का अंत.. माया और ममता ने पकड़ी कांग्रेस से अलग राह

महागठबंधन का नारा अब क्या खत्म मान लेना चाहिए? शायद हां। बसपा नेत्री मायावती के बाद पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी मंगलवार को साफ कर दि ...

जैश के सरगना को जब राहुल गांधी बोल गए मसूद अजहर जी भाजपा ने कसा तंज

पुलवामा आतंकी हमले की जिम्मेदारी लेने वाले आतंकी संगठन जैश-ए-मुहम्मद के मुखिया मसूद अजहर को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मसूद अजहर जी बोला है। राहु ...

Lok Sabha Election 2019: सात चरणों में होगा लोकसभा चुनाव, 23 मई को होगी मतगणना

दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र के महापर्व का शंखनाद हो गया है। रविवार को चुनाव आयोग ने मतदान की तारीखों से पर्दा हटाते हुए साफ कर दिया कि लोकसभा की 543 ...

पीएम आज नोएडा के दौरे पर, मेट्रो की ब्लू लाइन विस्तार समेत कई प्रोजेक्‍ट्स का करेंगे उद्घाटन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को ग्रेटर नोएडा से नोएडा, ग्रेटर नोएडा, बुलंदशहर व बिहार के बक्सर जिले में होने वाले करोड़ों रुपये के कार्यों का शिलान ...

Recent Posts






















Like us on Facebook