अमेरिका से भारत का कॉमकासा करार, जानिए- पाक और चीन पर क्या पड़ेगा इसका असर

भारत और अमेरिका ने नई रक्षा संधि (कॉमकासा) पर हस्ताक्षर कर दिए हैं जो दोनों देशों को सबसे मजबूत रक्षा सहयोगी देश के तौर पर स्थापित करेगा। इस समझौते के बाद अमेरिका के लिए भारत का महत्व एक नाटो देश की तरह हो गया है। भारत से पहले जापान और ऑस्ट्रेलिया के साथ ही इस तरह का समझौता अमेरिका ने किया है। सनद रहे कि एक दशक पहले तक भारत-अमेरिका के बीच बेहद कम रक्षा सहयोग होता था। लेकिन अब सालाना 10 अरब डॉलर के उपकरण खरीदे जा रहे हैं। इनका आकार आने वाले दिनों में और तेजी से बढ़ सकता है। रक्षा व विदेश मंत्रियों के बीच हॉट लाइन अमेरिका के साथ गुरुवार को हुई पहली टू प्लस टू वार्ता बेहद सफल रही। इस दौरान पहली बार दोनों देशों के रक्षा मंत्री और विदेश मंत्री के बीच हॉटलाइन स्थापित करने का फैसला लिया गया। इतना ही नहीं, भारत की रक्षा जरूरतों को पूरा करने के लिए पेंटागन (अमेरिकी रक्षा मंत्रालय) में एक विशेष अधिकारी की नियुक्ति भी होगी। वार्ता में भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमन और अमेरिका की ओर से विदेश मंत्री माइक पोंपियो और रक्षा मंत्री जिम मैटिस शरीक हुए।
क्या है कॉमकासा
कॉमकासा यानी कम्युनिकेशंस एंड इंर्फोमेशन ऑन सिक्यूरिटी मेमोरेंडम ऑफ एग्रीमेंट अमेरिका ने नाटो समेत कुछ अन्य देशों के साथ किया हुआ है। यह अमेरिका की तरफ से उसके सहयोगी देशों को बेहद अत्याधुनिक रक्षा तकनीक देने और आपातकालीन स्थिति में उन्हें तत्काल मदद देने की राह निकालता है।
चिढ़ सकता है चीन
यह समझौता चीन को बेहद नागवार गुजर सकता है, क्योंकि भारत व अमेरिका ने टू प्लस टू वार्ता के बाद जारी साझा बयान में इस बात के संकेत दिए हैं कि वह पूरे क्षेत्र में द्विपक्षीय व त्रिपक्षीय सहयोग के साथ चार देशों के सहयोग को लेकर भी तैयार है। सनद रहे कि भारत, अमेरिका, जापान व आस्ट्रेलिया के बीच पिछले एक वर्ष में दो बार विमर्श हुआ जिसे हिंद-प्रशांत क्षेत्र में एक नए समीकरण के तौर पर देखा जा रहा है।
अगले साल त्रिपक्षीय सैन्य अभ्यास
भारत व अमेरिका ने कहा है कि उनकी तीनों सेनाओं के बीच अगले वषर्ष पहली बार सैन्य अभ्यास किया जाएगा। संभवत: यह हिंद महासागर में किया जाएगा जहां चीन की ब़़ढती गतिविधियां भारत के लिए चिंता का सबब बनी हुई हैं।
मेक इन इंडिया को बढ़ावा
कॉमकासा करार को हिंदी में संचार, सक्षमता, सुरक्षा समझौता कहा गया है। यह पूरी तरह से भारत की सैन्य जरूरत को ध्यान में रखते हुए किया गया है। अभी इसकी अवधि 10 साल के लिए होगी। यह रक्षा क्षेत्र में मेक इन इंडिया कार्यक्रम को भी ब़़ढावा देगा, क्योंकि अब अमेरिकी निजी कंपनियों को रक्षा क्षेत्र की उच्च तकनीकी वाले हथियारों या उपकरणों का यहां निर्माण करने की इजाजत होगी।
इसलिए महत्वपूर्ण है करार
-अमेरिका अपनी गोपनीय सुरक्षा तकनीकों को भी भारत को मुहैया कराएगा।
-29 देशों के उत्तर अटलांटिक संधि संगठन (नाटो) के सदस्य देशों को छोड़ भारत इकलौता ऐसा देश बन गया है, जिसे अमेरिका ये सुविधाएं देगा।
-सेना के लिए अमेरिका से अत्याधुनिक संचार प्रणाली मिलेगी।
-इस करार से अमेरिका के बेहद उन्नत युद्धक विमानों मसलन सी-17, सी-130 हरक्यूलिस का भारत में निर्माण संभव हो सकेगा।
-भारत जिन विमानों को स्थानीय तौर पर विकसित कर रहा है, उनमें भी अमेरिकी मदद ली जा सकती है।
-अमेरिका दुनिया भर से जो भी संवेदनशील डाटा अपनाता है, उसे भारत को भी दिया जा सकेगा।
-ऐसे में चीन और पाकिस्तान की सैन्य तैयारियों को लेकर भी सूचना मिल सकेगी।
-अमेरिका ने पहले ही भारत को ड्रोन तकनीक देने की बात कही है। यह करार इसकी राह भी आसान करेगा।

Read More

KMP Expressway: पीएम मोदी करेंगे उद्घाटन, यूपी, हरियाणा और राजस्थान को होगा फायदा

कुुंडली गाजियाबाद पलवल ईस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेस-वे (केजीपी) के उद्घाटन के महज छह माह बाद ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को कुंडली मानेसर पलवल व ...

मोदी को मारने और गृहयुद्ध भड़काने की थी माओवादियों की साजिश, आरोप पत्र दाखिल

पुणे की पुलिस ने यलगार परिषद मामले में गुरुवार को दायर आरोप पत्र में दावा किया है कि कुछ माओवादी नेताओं ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हत्या की साजिश ...

आज तमिलनाडु से टकराएगा चक्रवात गाजा, स्कूलों में छुट्टी; नौसेना सतर्क, प्रदेशभर में अलर्ट

चक्रवाती तूफान गाजा के आज तमिलनाडू से टकराने की आशंका है, जिसके चलते तमिलनाडू और आस-पास के इलाकों में भारी बारिश हो सकती है। स्कूलों और कॉलेजों में गु ...

केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार का निधन, कैंसर से पीड़ित थे, BJP में शोक की लहर

केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार का निधन हो गया है। वे कैंसर से पीड़ित थे और रविवार देर रात करीब डेढ़ बजे उन्होंने अंतिम सांस ली। 59 साल के अनंत कुमार का पह ...

भाजपा के विरोध के बावजूद कर्नाटक सरकार मनाएगी टीपू जयंती, धारा 144 लागू

कर्नाटक पूर्ववर्ती मैसूर साम्राज्य के शासक रहे टीपू सुल्तान की जयंती पर सियासी घमासान छिड़ा है। विपक्षी भाजपा के विरोध के बावजूद कर्नाटक सरकार आज (शनि ...

कर्नाटक की पांच सीटों पर उपचुनाव के बाद वोटों की गिनती जारी

कर्नाटक की तीन लोकसभा और दो विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव के नतीजों का आज ऐलान होगा। मतगणना सुबह आठ बजे से शुरू हो गई है। जानकारी के मुताबिक इसके लिए ...

आज खुलेगा भगवान अयप्‍पा के मंदिर का कपाट, सबरीमाला कस्‍बे में पुलिस सर्तक

केरल के सबरीमाला कस्बे को पुलिस ने पूरी तरह अपने नियंत्रण में ले लिया है। एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि यहां स्थित प्रसिद्ध भगवान अयप्पा का मंदिर पांच न ...

छोटे कारोबारियों को 59 मिनट में मिल जाएगा 1 करोड़ तक का लोन, पीएम मोदी ने लॉन्च की योजना

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को छोटे एवं मझोले उद्यमों को आगे बढ़ाने के MSME लोन सुविधा लॉन्च की। इसके तहत, महज 59 मिनट में एक करोड़ रुपए तक क ...

छत्तीसगढ़ कांग्रेस मुख्यालय में जमकर उत्पात, खिड़कियों के कांच और कुर्सियां तोड़ी गई

छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव को लेकर रायपुर दक्षिण और बिलासपुर में कांग्रेस प्रत्याशियों की घोषणा के बाद गुरुवार शाम जमकर हंगामा हुआ। रायपुर दक्षिण के ...

प्रदूषण के खिलाफ आज से एलान-ए-जंग, दिल्ली-एनसीआर में लागू हुआ GRAP

दिल्ली-एनसीआर में वायु प्रदूषण का स्तर खतरनाक से बेहद खराब श्रेणी में पहुंच गया है और जिस आबोहवा के बिगड़ने का डर था, आखिरकार उसने दस्तक दे ही दी। इस ...

सबसे ऊंचे सरदार.. स्टैच्यू ऑफ यूनिटी आज होगी देशवासियों को समर्पित

आज देश सरदार वल्लभभाई पटेल की 143वीं जयंती मना रहा है। देश के पहले गृहमंत्री रहे वल्लभभाई पटेल की जयंती के मौके पर आज गुजरात में वडोदरा के पास स्टैच्य ...

Recent Posts






















Like us on Facebook