ओडिशा में तितली का विकराल रूप, सुरक्षित स्थान पर पहुंचाये जा रहे हैं लोग

ओडिशा में चक्रवाती तूफान तितली भयंकर रूप धारण कर चुका है। तूफान के प्रभाव से एक तरफ जहां 140 से 150 किमी. प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल रही है तो वहीं दूसरी तरफ राज्य के विभिन्न जिलों में भारी बारिश हो रही है। गौरतलब है कि चक्रवात के खतरे को देखते हुए ओडिशा में बुधवार से रेड अलर्ट घोषित कर दिया गया था। ऐसे में इस तूफान से लोगों के धन जीवन को बचाने को लेकर पूरे प्रशासन को हाई एलर्ट पर कर दिया गया है। गंजाम के गोपालपुर के पास तितली चक्रवात के कारण सुबह 5 बजकर 30 मिनट पर भूस्खलन हुआ। निचले इलाकों में रहने वाले 10,000 लोगों को बुधवार रात सरकारी आश्रय में भेजा गया।
गौरतलब है कि तूफान से निपटने के लिए राज्य सचिवालय में बुधवार को मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने विभिन्न विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ उच्च स्तरीय भी बैठक की थी। मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने बैठक की अध्यक्षता करते हुए जीरो कैजुएल्टी पर जोर दिया था और कहा था कि इस हेतु जो भी जरूरी कदम उठाने की जरूरत हो उठाएं जाएं। निचले इलाके के लोगों को फौरन सुरक्षित स्थान पर पहुंचाने का निर्देश देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा था कि बाढ़ आश्रय स्थल में रहने वाले लोगों को पका हुआ खाद्य, शुद्ध पेयजल, स्वास्थ्य सेवा की बेहतर व्यवस्था की जाए।
ट्रेन यातायात प्रभावित
चक्रवाती तूफान तितली के भयंकर रूप धारण करने के बाद पूर्वतट रेलवे ने बुधवार रात 10 बजे से खुर्दारोड एवं आन्ध्र के विजयनगरम के बीच ट्रेन यातायात को रद्द कर दिया है। अगला आदेश न आने तक इस रूट में ट्रेन सेवाएं रद्द होने की घोषणा बुधवार अपराह्न को पूर्वतट रेलवे की तरफ से की गई है। जानकारी के अनुसार कुछ दुरगामी ट्रेन को नागपुर-विजयवाड़ा देकर डाइवर्ट किया गया है। उसी तरह पुरी से छुटने वाली कुछ ट्रेनों के समय में भी बदलाव किया गया है। खडग़पुर से ओडि़शा होकर चेन्नई की तरफ जाने वाली ट्रेनों को शाम 5 बजकर 15 मिनट के बाद भद्रक स्टेशन से पहले ही रोक देने का निर्देश जारी किया गया है। आन्ध्र प्रदेश के हैदराबाद एवं विशाखापट्टनम से आने वाली ट्रेनों को शाम 6 बजकर 40 मिनट के बाद दुभाड़ा स्टेशन के पास रोक दिया जाएगा। अगले निर्देश आने तक ट्रेन यातायात को रद्द रहेंगी।
तूफान को देख बाजार में बढ़ी लोगों की भीड़
चक्रवाती तूफान ततली के भयंकर रूप धारण करने की खबर मिलने के बाद बुधवार को बाजार में लोगों की खासी भीड़ देखी गई। राजधानी में लोग खाद्य सामग्री खरीदकर अपने-अपने घरों में एकत्रित करने में जुट गए हैं। इसका फायदा उठाते हुए कुछ व्यापारियों ने खाद्य सामाग्री की अचानक कीमत बढ़ा दी है। कुछ जगहों पर आलू-प्याज जैसे जरूरी खाद्य सामग्री बाजार से गायब हो गई है। व्यापारियों की इस तरह की हरकत से लोगों की मुसीबत बढ़ गई है। हालांकि खाद्य एवं आपूिर्त मंत्री सूर्य नारायण पात्र ने कहा है कि खाद्य सामग्री को लेकर उपभोक्ता चिंता ना करें। पर्याप्त मात्रा में खाद्य सामग्री मौजूद है। किसी भी जगह से काला बाजारी की खबर मिलने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। ऊंचे दर पर सामग्री बिक्री करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने का मंत्री ने निर्देश दिया है।

Read More

सीएम बनते ही बोले कमलनाथ, यूपी-बिहार नहीं मध्यप्रदेश के युवाओं का नौकरी पर पहला हक

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ का एक काम पहले दिन से ही विवादों की भेट चढ़ता नजर आ रहा है। दरअसल, मुख्यमंत्री ने पहले दिन उद्योगों के लिए नई छूट नीत ...

कर्जमाफी- गंगा जल लेकर किया गया वादा कांग्रेस के लिए चुनौती, किसानों को है बेसब्री से इंतजार

मध्य प्रदेश, राजस्थान के साथ ही छत्तीसगढ़ में भी मुख्यमंत्री पद के दावेदार का चयन होने के बाद अब इंतजार केवल इसका नहीं है कि कमलनाथ, अशोक गहलोत और भूप ...

कौन बनेगा मुख्यमंत्रीः मप्र, राजस्थान के बाद अब छत्तीसगढ़ की बारी, सस्पेंस बरकरार

मध्यप्रदेश के बाद राजस्थान के मुख्यमंत्री की भी घोषणा हो गई, लेकिन छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री पर रहस्य बरकरार है। शुक्रवार को दिल्ली में कांग्रेस के राष् ...

मध्यप्रदेश में कमल के बाद कमलनाथ का राज, सोनिया-प्रियंका की ने की सीएम बनने में मदद!

चुनाव नतीजे आने के दो दिन बाद कांग्रेस आखिरकार मध्य प्रदेश में कमलनाथ को मुख्यमंत्री चुनने में सफल रही। मध्यप्रदेश में कमलनाथ पर मुहर राहुल गांधी ने म ...

तीनों राज्यों के सीएम पर अब भी सस्पेंस, अब दिल्ली में राहुल तय करेंगे नाम

तीन राज्यों में बड़ी जीत के बाद मुख्यमंत्री पद की दौड़ में शामिल दिग्गजों के डटे रहने की वजह से कांग्रेस के लिए सीएम तय करना आसान नहीं रहा। मध्य प्रदे ...

मध्यप्रदेश-राजस्थान में किसी को बहुमत नहीं, जोड़-तोड़ शुरू; किसकी बनेगी सरकार ?

कांग्रेस पार्टी तीन राज्यों में मिली जीत से भले ही उत्साहित हो लेकिन वो दो राज्यों, राजस्थान और मध्यप्रदेश में बहुमत का आंकड़ा नहीं छू पाई है। इसीलिए ...

दिल थाम कर बैठिए, कल धीरे-धीरे आएगा चुनाव परिणाम, कांग्रेस की ये मांग है वजह

इस बार मतगणना का परिणाम धीरे-धीरे आएगा और देर रात तक नतीजे घोषित होने की संभावना है। इसके पीछे वजह कांग्रेस की आशंका और चुनाव आयोग का एक फैसला है। दरअ ...

10 Exit Poll का सार, जानें कहां बन रही है किसकी सरकार

राजस्थान और तेलंगाना का मतदान खत्म होते ही एग्जिट पोल जारी कर दिए गए। सभी की नजरें मध्यप्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ पर टिकी थी, जहां मुख्य मुकाबला भा ...

दैनिक जागरण के 75 सालः संवरते भारत का संवाद, पीएम मोदी रखेंगे विचार

विज्ञान, नैतिकता और सार्थकता की राह दिखाने वाला भारत अब फिर से खुद को तलाश रहा है। जाहिर है कि यह स्थिति कई कारणों से बनी जिसमें शायद वषर्षो की गुलामी ...

बिचौलिये मिशेल से CBI की सख्त पूछताछ, सिर्फ दो घंटे सोने दिया, घबराहट में दौरा पड़ा

अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलिकॉप्टर सौदे में बिचौलिए क्रिश्चियन मिशेल (57) के दिल्ली पहुंचने के बाद सीबीआइ ने उससे सघन पूछताछ की। उसे रात में सिर्फ द ...

भारत का सबसे वजनी सैटेलाइट GSAT-11 लांच, तेज हो जाएगी इंटरनेट की स्पीड

भारतीय अंतरिक्ष एजेंसी ISRO ने बुधवार को अपने अब तक के सबसे वजनी सैटेलाइट का प्रक्षेपण कर दिया। भारतीय समयानुसार मगंलवार-बुधवार की रात में दक्षिणी अमे ...

Recent Posts






















Like us on Facebook