राष्ट्रीय मतदाता दिवस कब मनाया गया ?

भारत में राष्ट्रीय मतदाता दिवस हर साल 25 जनवरी को मनाया जाता है। यह दिवस भारत के प्रत्येक नागरिक के लिए अहम है। इस दिन भारत के प्रत्येक नागरिक को अपने राष्ट्र के प्रत्येक चुनाव में भागीदारी की शपथ लेनी चाहिए, क्योंकि भारत के प्रत्येक व्यक्ति का वोट ही देश के भावी भविष्य की नींव रखता है। इसलिए हर एक व्यक्ति का वोट राष्ट्र के निर्माण में भागीदार बनता है।

भारत में जितने भी चुनाव होते हैं, उनको निष्पक्षता से संपन्न कराने की जिम्मेदारी भारत निर्वाचन आयोग की होती है। भारत निर्वाचन आयोग का गठन भारतीय संविधान के लागू होने से 1 दिन पहले 25 जनवरी 1950 को हुआ था, क्योंकि 26 जनवरी 1950 को भारत एक गणतांत्रिक देश बनने वाला था और भारत में लोकतांत्रिक प्रक्रियाओं से चुनाव कराने के लिए निर्वाचन आयोग का गठन जरूरी था इसलिए 25 जनवरी 1950 को भारत निर्वाचन आयोग गठन हुआ।

भारत सरकार ने वर्ष 2011 से हर चुनाव में लोगों की भागीदारी बढ़ाने के लिए निर्वाचन आयोग के स्थापना दिवस 25 जनवरी को ही राष्ट्रीय मतदाता दिवस के रूप में मनाने की शुरुआत की थी और 2011 से ही हर साल 25 जनवरी को राष्ट्रीय मतदाता दिवस मनाया जाता है। इस दिन देश में सरकारों और अनेक सामजिक संथाओं द्वारा लोगों को मतदान के प्रति जागरूक करने के लिए अनेक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है जिससे कि देश की राजनीतिक प्रक्रियाओं में लोगों की अधिकतम भागीदारी सुनिश्चित की जा सके।

राष्ट्रीय मतदाता दिवस का हर वर्ष आयोजन सभी भारत के नागरिकों को अपने राष्ट्र के प्रति कर्तव्य की याद दिलाता है। राष्ट्रीय मतदाता दिवस का आयोजन लोगों को यह भी बताता है कि हर व्यक्ति के लिए मतदान करना जरूरी है। भारत के प्रत्येक नागरिक का मतदान प्रक्रिया में भागीदारी जरूरी है, क्योंकि आम आदमी का एक वोट ही सरकारें बदल देता है। हम सबका एक वोट ही पलभर में एक अच्छा प्रतिनिधि भी चुन सकता है और एक बेकार प्रतिनिधि भी चुन सकता है इसलिए भारत के प्रत्येक नागरिक को अपने मत का प्रयोग सोच-समझकर करना चाहिए और ऐसी सरकारें या प्रतिनिधि चुनने के लिए करना चाहिए, जो कि देश को विकास और तरक्की के पथ पर ले जा सकें।

भारत देश की 65 प्रतिशत आबादी युवाओं की है इसलिए देश के प्रत्येक चुनाव में युवाओं को ज्यादा से ज्यादा भागीदारी करनी चाहिए और ऐसी सरकारें चुननी चाहिए, जो कि सांप्रदायिकता और जातिवाद से ऊपर उठकर देश के विकास के बारे में सोचें। जिस दिन देश का युवा जाग जाएगा, उस दिन देश से जातिवाद, ऊंच-नीच, सांप्रदायिक भेदभाव खत्म हो जाएगा। ये सिर्फ और सिर्फ हो सकता है हम सबके मतदान करने से।

25 जनवरी को भारत के प्रत्येक नागरिक को लोकतंत्र में विश्वास रखते हुए शपथ लेनी चाहिए कि वे देश की स्वतंत्र, निष्पक्ष और शांतिपूर्ण चुनाव कराने की लोकतांत्रिक परंपरा को बरकरार रखेंगे और प्रत्येक चुनाव में धर्म, नस्ल, जाति, समुदाय, भाषा आधार पर प्रभावित हुए बिना निर्भीक होकर मतदान करेंगे। ऐसी शपथें हर वर्ष 25 जनवरी को लाखों लोग लेते हैं।

लेकिन फिर भी इस शपथ पर अमल बहुत कम होता है, क्योंकि आज भी लोग सांप्रदायिक, जातिवाद और भाषायी आधार पर वोट देते हैं। इससे अनेक अपराधी प्रवृत्ति के लोग भी देश की संसद और विधानसभाओं में प्रतिनिधि चुनकर चले जाते हैं। इसलिए भारत के प्रत्येक नागरिक को सांप्रदायिक और जातीय आधार से ऊपर उठकर एक साफ-सुथरी छवि के व्यक्ति के लिए अपने मत का प्रयोग करना चाहिए।

राष्ट्रीय मतदाता दिवस का उद्देश्य लोगों की मतदान में अधिकतम भागीदारी सुनिश्चित करने के साथ-साथ मतदाताओं को एक अच्छा साफ-सुथरी छवि का प्रतिनिधि चुनने हेतु मतदान के लिए जागरूक करना है। हमारे लोकतंत्र को विश्व में इतना मजबूत बनाने के लिए मतदाताओं के साथ-साथ भारत देश के निर्वाचन आयोग का भी अहम् योगदान है। हमारे निर्वाचन आयोग की वजह से ही देश में निष्पक्ष चुनाव हो पाते हैं।

आज राष्ट्रीय मतदाता दिवस के दिन देश के प्रत्येक मतदाता को अपनी सक्रिय भागीदारी के माध्यम से लोकतंत्र को मजबूत करने का संकल्प लेना चाहिए।

Read More

बलराम जयंती 2020

बलराम जन्मोत्सव हर साल भाद्रपद मास के कृष्ण पक्ष की षष्ठी तिथि के दिन मनाया जाता है. वहीं, अष्टमी के दिन श्रीकृष्ण जन्मोत्सव मनाया जाता है.इस बार बलरा ...

International Cat Day अंतरराष्ट्रीय बिल्ली दिवस

हर साल 8 अगस्त को दुनिया के कई देशों में अंतर्राष्ट्रीय बिल्ली दिवस (International Cat Day) मनाया जाता है. इस दिवस को मनाने की शुरुआत साल 2002 में हुई ...

रक्षाबंधन 2020 Date, Puja Timings

हिंदू कैलेंडर के मुताबिक राखी का त्योहार हर साल सावन मास की पूर्णिमा को मनाया जाता है. ग्रगोरियन कैलेंडर के अनुसार इस त्योहार को हर साल अगस्त के महीने ...

2 अगस्त को फ्रेंडशिप डे लेकिन 30 जुलाई को ट्रेंड क्यों? यहां जानिए

भारत में इस साल 2 अगस्त को मित्रता दिवस (फेंड्रशिप डे) मनाया जाएगा। भारत में हर साल अगस्त के पहले रविवार को फेंड्रशिप डे मनाया जाता है। आपको बता दें 3 ...

IIT के पूर्व छात्र ने बनाया कोरोना वायरस से लड़ने वाला डियो-परफ्यूम

कोरोनावायरस से बचने के लिए तरह-तरह के उपाय किए जा रहे हैं, ऐसे में खुद को सैनिटाइज रखना बेहद कठिन है। वह भी तब जब आप काम पर बाहर निकल रहे हैं या आफिस ...

अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक दिवस कब मनाया जाता है ?

23 जून को प्रति वर्ष ओलिंपिक दिवस के रूप में मनाया जाता है। जून 2017 तक, इसकी सदस्यता में 95 सक्रिय सदस्य, 41 मानद सदस्य, एक मानद अध्यक्ष (जैक्स रोगे) ...

संयुक्त राष्ट्र लोक सेवा दिवस कब मनाया जाता है ?

संयुक्त राष्ट्र लोक सेवा दिवस (United Nations Public Service Day) विश्वभर में 23 जून 2013 को मनाया गया. वर्ष 2013 का विषय रखा गया- परिवर्तनकारी ई-गवर् ...

अंतरराष्ट्रीय विधवा दिवस कब मनाया जाता है ?

अंतरराष्ट्रीय विधवा दिवस 23 जून 2014 को दुनिया भर में मनाया गया. सभी उम्र, क्षेत्र और संस्कृति की विधवाओं की स्थिति को विशेष पहचान देने के लिए संयुक्त ...

21 जून को लगेगा सूर्यग्रहण जानें समय और प्रभाव

21 जून 2020 को दुर्लभ संयोग के साथ कुंडलाकार, वलयाकार सूर्य ग्रहण जारी है। सूर्य ग्रहण के दौरान वर्तमान स्थिति ऐसी है, जब चंद्रमा पृथ्वी और सूर्य के ब ...

विश्व हाइड्रोग्राफी डे कब मनाया जाता है ?

विश्व भर में 21 जून 2016 को विश्व हाइड्रोग्राफी डे मनाया गया. वर्ष 2016 का विषय हाइड्रोग्राफी – अच्छी तरह से प्रबंधित समुद्र और जलमार्ग की कुंजी (Hydr ...

International Yoga Day 21 जून को ही क्यों मनाया जाता है योग दिवस ?

आपका मन अगर अशांत है या शरीर की क्रियाशीलता कम हो गई है, तो इससे लिए आपको अपने जीवन का कुछ वक्त योग को समर्पित करना चाहिए जिससे कि आप न सिर्फ स्वस्थ र ...

Recent Posts






















Like us on Facebook